सावन का महीने कैसे करे महादेव को खुश

सावन का महीने कैसे करे महादेव को खुश

देवो के देव महादेव का पावन महीना शुरू हो चुका है और यह महीना खास शिवजी के भक्तो को बहुत प्रिय है कहते है शिव इतने भोले है के जल्दी से वह हमारी कामनाओ को पूरा करते है हम से बहुत जल्दी प्रसन्न हो जाते है तभी तो कहा जाता है बहुत भोले है हमारे शिव

सावन का महीना शिव उपासना के लिए सबसे बहुत महत्‍वपूरण है। आप सावन में प्रतिदिन सुबह करे और शिवजी की उपासना करे आपकी मनोकामना ज़रूर पूरी होगी

कैसे करे पूजा

सुबह स्नान आदि नित्य कर्मों से निवृत्त होकर पवित्र हो जाएं. इसके बाद घर के मंदिर में ही या किसी शिव मंदिर जाएं. मंदिर पहुंचकर भगवान शिव के साथ माता पार्वती और नंदी को गंगाजल अर्पित करें. जल अर्पित करने के बाद शिवलिंग पर चंदन, चावल, बिल्वपत्र, आंकड़े के फूल और धतूरा चढ़ाएं.पूजा संपन्न करने के लिए भगवान शिव को घी, शक्कर का भोग लगाएं और इसके बाद धूप, दीप से आरती करें.

रुद्राक्ष पहने और अपनी ज़िंदगी बदले

शिवजी की पूजा में 21 बिल्वपत्रों पर चंदन से ऊं नम: शिवाय लिखकर शिवलिंग पर चढ़ाएं। ध्यान रहे जिस बिल्वपत्र को आप शिवलिंक पर चढ़ा रहे हैं, वह कटा या फटा हुआ न हो। ऐसा करने से आपकी मनोकामनाएं जल्दी पूरी होती है।

मंत्रो का जाप -कुछ देर मंदिर में ही या घर में एकांत जगह मन ही मन में ऊं नम: शिवाय मंत्र का जप करें। इससे मन को शांति मिलेगी। और आपका मन अच्छा फील करेगा

रुद्राभिषेक -भगवान शिव को रुद्राभिषेक बहुत प्रिय है। रुद्राभिषेक करना शिव आराधना का सबसे उत्तम तरीका है इसका मतलब है रुद्रा मंत्रो द्वारा अभिषेक करना जिससे आपके जीवन में खुशहाली आती है आप मंदिर में अपने परिवार के साथ जाए और रुद्राभिषेक करे

काले तिल -एक लोटे में शुद्ध जल और उसमें काले तिल डाल दें। अब इस जल को शिवलिंग पर ऊँ नम: शिवाय मंत्र जप करते हुए चढ़ाएं और मंत्र का जप करते रहें। जल चढ़ाने के बाद फूल और बिल्व पत्र चढ़ाएं। इस उपाय से शुभ फल प्राप्त होता है

ना करे इन चीज़ो का इस्तेमाल पूजा में -हल्दी, नारियल पानी, तुलसी पत्ता, कुमकुम , और शंख का प्रयोग शिव पूजा में नही करना चाह‌िए